नेशनल स्टार्टअप डे क्या है तथा स्टार्टअप का मतलब क्या होता है

नेशनल स्टार्टअप डे क्या है दोस्तों इस वर्ष प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी द्वारा एक बड़ा ऐलान किया गया है जिसमें उन्होंने देश के युवाओं को आगे करते हुए बात कही है उनके कहने अनुसार छोटे से ही छात्रों को इसके प्रति आकर्षण का भाव पैदा करना है जिसे उन्होंने नेशनल स्टार्टअप डे का नाम दिया है

हमारे प्रधानमंत्री जी द्वारा इस दिवस का ऐलान 15 जनवरी दिन शनिवार को किया गया और इस दिवस को 16 जनवरी नेशनल स्टार्टअप डे के रूप में मनाया जाएगा तो चलिए हम इस लेख में नेशनल स्टार्टअप डे से जुड़ी संपूर्ण जानकारी के बारे में जानेंगे, नेशनल स्टार्टअप डे क्या होता है, इसे मनाने का फैसला क्यों लिया गया, तथा मोदी जी द्वारा बोले गए कुछ वाक्यों की बात करेंगे अतः इस लेख को अंत पढ़ें।

नेशनल स्टार्टअप डे आशय क्या है ?

स्टार्टअप से आशय यह है कि यदि कोई व्यक्ति किसी कार्य को अभी शुरु कर रहा है चाहे वह अकेले रहकर कार्य करें या एक ग्रुप बनाकर उसके इस शुरुआत को स्टार्टअप का नाम दिया जाता है यदि आप व्यक्तिगत या सामूहिक रूप से किसी कंपनी की नींव रखते हैं तो उसे इनक्यूबेशन भी कहा जाता है

यहां पर लोग अपनी  विशेषज्ञता और कुशलता को लेकर आते हैं जिस पर उन्हें स्टार्टअप करने के तरीके और ऑडियो पर सुझाव दिया जाता है जिस से कंपनी द्वारा ग्राहकों को एक यूनिक प्रोडक्ट ओर सर्विस मिल सके इसी तरह के व्यवसाय को स्टार्ट करने के लिए 16 जनवरी को नेशनल स्टार्टअपडे के रूप में मनाया जाएगा।

नई दिल्ली में मोदी जी द्वारा किया गया एलान–

प्रधानमंत्री मोदी जी द्वारा 15 जनवरी 2022 को नई दिल्ली में स्टार्टअप उधमियो के साथ बैठक के दौरान मोदी जी द्वारा यह घोषणा की गई जिसमें-

पीएम मोदी ने कहा- मैं सर्वप्रथम देश के उन सभी युवाओं को बहुत-बहुत बधाई देना चाहता हूं जो नेशनल स्टार्टअप की दुनिया में भारत का झंडा बुलंद कर रहे हैं मैं उन सभी इनोवेटिव युवाओं से आग्रह करता हूं कि यह नेशनल स्टार्टअपडे का कल्चर देश के उन सभी दूरदराज के कोनों तक पहुंचाए

जहां इनकी ज्यादा जरूरत है इसलिए प्रधानमंत्री जी द्वारा 16 जनवरी को अब नेशनल स्टार्टअप डे के रूप में मनाया जाएगा।उद्यमियों से कहा कि अपने सपनों को केवल स्थानीय रखें उन्हें वैश्विक बनाएं

स्कूली बच्चों पर इनोवेशन के प्रति आकर्षण का भाव–

पीएम मोदी जी द्वारा बच्चों को लेकर यह बात कही कि हमारा प्रयास देश के सभी बच्चों को इनोवेशन के प्रति आकर्षण को जगाने और इनोवेशन को संस्था रूप में स्थापित करने का है

आज देश में अटल टिंकरिंग लैब के देश के 9000 से अधिक बच्चों को स्कूल में छोटे बड़े सभी व्यवसाय की नींव डालने के बारे में बताते हैं तथा उनके साथ व्यवसाय को व्यक्तिगत कैसे मैनेज कर सकते हैं कैसे सामूहिक रूप से किसी कंपनी को चला सकते हैं इन सभी पर नए विचार करने का सुझाव दे रहे हैं।

देश के विकास में स्टार्टअप का योगदान–

पीएम मोदी जी द्वारा सन् 2016 में स्टार्टअप इंडिया का पहला पहल देखा गया था उनका मानना है कि देश के विकास में उद्योग का ज्यादा योगदान है देश के विकास में योगदान देने में स्टार्टअप उद्योग की एक बड़ी क्षमता है तथा प्रधानमंत्री जी द्वारा सरकार इस स्टार्टअप उद्योग को बढ़ावा देने के लिए एक नया प्लान किया जाए

जिसमें उद्योगों की प्रगति और उन्नति के लिए नया वातावरण तैयार होगा तथा इस तैयारवातावरण को सरकार द्वारा एक नई दिशा दी जाएगी इसका देश में स्टार्टअप इकोसिस्टम पर बहुत ही जबरदस्त प्रभाव पड़ा है

खेल के विषयों में उन्होंने बोला कि खेल के नियमों को बदल रहे हैं क्योंकि स्टार्टअप का युग अब शुरू हो रहा है और उन्होंने बोला कि भारत देश तेजी से यूनिकॉर्न की सदी की ओर बढ़ रहा है जो आत्मनिर्भर और आत्मविश्वास भारत की पहचान है।

भारत सरकार मोदी जी द्वारा किया गया यह बड़ा ऐलान आपको कैसा लगा क्या स्टार्टअप की दुनिया में आप भी अपनी भागीदारी देंगे यदि आप इससे सहमत हैं तो हमें कमेंटबॉक्स पर जरूर बताएं।

धन्यवाद।।।

Leave a Comment